A Beatiful Poem

अगर नींद से प्यारा है सपना,
और ज़िद के साथ ले सकते हो जोखिम
तो ये जगह तुम्हारी है..

अगर शुरू कर सकते हो अकेले,
और बढने के लिए नहीं ढूँढोगे सहारा
तो ये जगह तुम्हारी है..

अगर भरोसा है खुद पर,
और अविश्वास नहीं है जग पर
तो ये जगह तुम्हारी है..

अगर चल सकते हो अनथक,
और छांव का इंतज़ार नहीं है
तो ये जगह तुम्हारी है..

अगर भूख लगे और याद आये भूखा,
और प्यास पर, तालाब एक सूखा
तो ये जगह तुम्हारी है…

अगर आँख नहीं है पर दृष्टि है,
तन का एक भाग नहीं है, पर मस्ती है
तो ये जगह तुम्हारी है…

अगर नहीं चाहते आग लगाना,
और चिंगारी है एक मकसद
तो ये जगह तुम्हारी है..

अगर नींद से प्यारा है सपना,
और ज़िद के साथ ले सकते हो जोखिम
तो ये जगह तुम्हारी है..
Anshu Gupta,

                                                                                                Founder Goonj

Anshu sir is a huge inspiration in my life and it was his statement: India doesn’t need thinker anymore, it needs people who can act,  propelled me into action.He is a true mentor and i would urge any youth to at-least meet him once for that meeting might just change your way of thinking for good.

Advertisements

Share your thoughts

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s